Faridabad NCRHaryana

कोरोना काल को अवसर मेें बदलने का काम किया है पलक गाबा ने

कोरोना काल को अवसर मेें बदलने का काम किया है पलक गाबा ने आज पूरा विश्व जहां कोरोना महामारी के चलते आर्थिक मंदी की मार झेल रहा है। उद्योग धंधे चौपट हो चुके हैं, युवा नौकरियां खोकर हताशा का शिकार हो रहे हैं, ऐसे में पलक गाबा ने युवाओं को प्रेरित करने का काम किया है। 22 वर्षीय युवा लडक़ी जिसने अभी-अभी फैशन डिजाइनिंग में ग्रेजुएशन (2020 बैच) पूरी की है, ने फरीदाबाद के सैक्टर-11 में अपना पहला शोरूम खोला है। सूक्ष्म और स्टाइलिश बनाने वाले टुकड़ों से डिजाइन तैयार करती हैं, जो बहुत सुंदर और सस्ती है। वह सुरुचिपूर्ण और समकालीन कढ़ाई में शुद्ध कपड़े पर काम करती हैं। हार्डवर्क और दृढ़ संकल्प के साथ यह युवा डिजाइनर एक अच्छे ग्राहक की हर उम्मीद को पूरा करती हैं। उनके आउटफिट अनोखे होते हैं, जो ग्राहकों के मन को अवश्य भाएंगे। अपने नए शोरूम की ओपनिंग के मौके पर पलक गाबा ने बताया कि अपने माता-पिता कमल गाबा और ज्योति गाबा, भाई प्रतीक गाबा के अतिरिक्त रिया बावेजा और रोहित बावेजा से उसको निरंतर समर्थन और प्रेरणा मिली। जिसके चलते उसने ऐसे दौर में जब सभी लोग आर्थिक मंदी से जूझ रहे हैं, में अपना खुद का शोरूम खोलने का साहस किया। मित्रों और परिवार के लोगों के सहयोग के बिना यह असंभव था, जिन्होंने मुझ पर विश्वास जताया और हौसलाफजाई की। शोरूम की ओपनिंग के अवसर पर दिनेश दुरेजा एवं मनीष गाबा आदि विशेष रूप से उपस्थित रहे।

Comment here